कोविड सेंटर से आक्सीजन मास्क उतारकर भागे युवक की थोड़ी दूर पर हुई मौत

बैतूल मीडिया । कोरोना संक्रमण ने सभी की जिन्दगी बदल दी है तथा कोरोना को लेकर अब लोगों में भय इतना बढ़ गया है कि कोविड सेंटर में भर्ती होने से भी लोग कतराने लगे हैं। शुक्रवार रात कोविड सेंटर में भर्ती मुलताई के गांधी वार्ड निवासी कोरोना संक्रमित युवक को घबराहट हुई जिससे वह आक्सीजन मास्क उतारकर कोविड सेंटर से भागा लेकिन आक्सीजन की कमी के कारण थोड़ी दूरी पर ही वह गिर गया जिसके बाद उसकी मौत हो गई।

बीएमओ डा.पल्लव ने बताया कि आक्सीजन मास्क उतारकर जैसे ही युवक भागा उसके पीछे कर्मचारी भी पकडे के लिए भागे लेकिन युवक थोड़ी दूरी पर ही जाकर आक्सीजन की कमी के कारण गिर गया जिसे उठाकर कोविड सेंटर लाया गया लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। इधर शुक्रवार पारड़सिंगा की एक 65 वर्षीय कोरोना संदिग्ध वृद्धा की कोविड सेंटर में मौत हुई वहीं कोरोना संक्रमित गोपलतलई के 67 वर्षीय वृद्ध तथा तथा कामथ निवासी 38 वर्षीय युवक की भी कोविड सेंटर में मौत हुई। शनिवार सोनोरा निवासी 62 वर्षीय कोरोना संक्रमित वृद्ध की भी गांव में ही मौत हुई है। शुक्रवार रात से शनिवार सुबह तक पांच मौतों से पूरे नगर में हड़कंप मच गया है। इस संबंध में बीएमओ पल्लव अमृतफले ने बताया कि सभी मृतकों का कोविड प्रोटोकाल के अनुसार अंतिम संस्कार कराया गया है। ग्राम सोनोरा में स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रोटोकाल के तहत गांव में ही अंतिम संस्कार कराया गया।

प्रभात पट्टन में कोरोना संक्रमण से दो मौतः

मुलताई में जहां दो कोरोना संदिग्ध मिलाकर पांच मौतें हुई है वहीं प्रभात पट्टन में भी कोरोना संक्रमण से दो मौतों की पुष्टी हुई है। प्रभात पट्टन बीएमओ जितेन्द्र अत्रे ने बताया कि प्रभात पट्टन निवासी 64 वर्षीय महिला को 10 दिन पूर्व अस्पताल से रेफर किया गया था जिसकी जिला अस्पताल में मौत हुई है। इसके साथ ही प्रभात पट्टन के ही 65 वर्षीय बुजुर्ग की शनिवार कोविड सेंटर में मौत हुई है। उन्होने बताया कि प्रभात पट्टन के दो कोरोना संक्रमित लोगों की एक ही दिन में मौत हुई है।

अंतिम संस्कार में सहयोग के लिए सक्रिय हुए समाजसेवीः

नगर में कोरोना संक्रमण से हो रही लगातार मौत तथा अंतिम संस्कार में आने वाली समस्याओं के दृष्टिगत प्रशासन भी नगर के समाजसेवियों का सहयोग ले रहा है। अंतिम संस्कार के लिए लकडिय़ों सहित विभिन्ना सामान की आवश्यकता पड़ रही है जिसका जिम्मा नगर के कुछ ताप्ती भक्त एवं समाजसेवी ले रहे हैं। शुक्रवार रात कोरोना संक्रमण से मौत के बाद तीन शवों के अंतिम संस्कार के लिए नगर के एक ताप्ती भक्त समाजसेवी द्वारा लकडिय़ों की व्यवस्था कराई गई। उन्होंने बताया कि विपदा की इस घड़ी में लोग बढ़ चढ़कर सहयोग करें क्योंकि यह अत्यंत पुण्य का कार्य है।

नगर सहित क्षेत्र में निकले 32 कोरोना संक्रमितः

नगर सहित क्षेत्र में लगातार कोरोना संक्रमित निकल रहे हैं जिसमें एक दिन पूर्व ही 47 कोरोना संक्रमित निकले थे वहीं शनिवार फिर 32 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार कोविड सेंटर सहित घरों में भी संक्रमित लोगों को आइसोलेट करके उपचार किया जा रहा है। शनिवार बरई, कामथ,महिलावाड़ी, सांडिया, पारड़सिंगा, हेटीखापा, दुनावा, खैरवानी, बघोली बुजुर्ग, खतेड़ा कला एवं परमंडल में बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित निकले वहीं नगरीय क्षेत्र से लगे कामथ, अंबेडकर वार्ड, सुभाष वार्ड, भगतसिंह वार्ड, पटेल वार्ड, ताप्ती वार्ड, नेहरू वार्ड, इंदिरा गांधी वार्ड में भी लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं।

न्यूज़ को शेयर करने के नीचे दिए गए icon क्लिक करें

बहुचर्चित खबरे